ये कैसी प्रथा : महिला को गैर मर्द से बनाने पड़ते हैं 7 बार संबंध, वो भी पति की मर्जी से !

0
3056

हम अक्सर यह सुनते है की दुनिया में महिलाओ की स्थिति काफी दयनीय है | कहीं महिलाओ के साथ जबरदस्ती तो कहीं महिलाओ के साथ प्रथा के नाम पर अत्याचार होते है | कुछ स्थानों पर तो ऐसी परम्पराये आज भी विद्यमान है जहाँ महिलाओ को समाज की मर्जी से दुःख झेलने पड़ते है | आज हम आपको दुनिया की ऐसी प्रथा के बारे में बताने जा रहे है | जहां महिलाओ को त्योहार के नाम पर दुःख झेलने पड़ रहे है | उन्हें किसी गैर मर्द के साथ 7 बार संबंध बनाने पड़ते है | लेकिन हैरानी की बात तो यह है की इस बात को उनके पति भी जानते है | लेकिन उन्हें इससे कोई भी फर्क नहीं पड़ता है | वे भी इसका पूर्ण रूप से समर्थन करते है | आईये इस परंपरा को करीब से जानते है |

यह प्रथा चलती है भारत से दक्षिण-पूर्व में स्थित देश इंडोनेशिया में | यहाँ इस परंपरा के मुताबिक हर साल महिलाएं किसी अंजान मर्द को ढ़ूंढती है और फिर उसके साथ संबंध भी बनाती है | यह प्रथा कुछ वर्षो पुरानी नहीं है | इंडोनेशिया में रहने वाले लोगो का मानना है की महिलाओ के द्वारा इस परंपरा का निर्वहन पिछले 400 से भी अधिक वर्षो से किया जा रहा है | यह प्रथा 16वीं सदी से चलती आ रही है।

यहाँ एक त्यौहार मनाया जाता है जिसे स्थानीय भाषा में पोन त्योहार कहा जाता है | इस त्योहार के दौरान बड़ी तादाद में पुरुष और औरतें केमुकस नामक पर्वत पर पहुंचते हैं | यहाँ महिलाओ को अपने पसंद का मर्द चुनना होता है | फिर महिला अपने मन की बात पुरुष के सामने रखती है और उसके साथ सहवास करने की मांग करती है | यदि पुरुष इस कार्य के लिए तैयार हो और वह भी यह चाहता है, तो महिला की इच्छा अवश्य पूर्ण की जाती है | यदि कोई पुरुष महिला के साथ सहवास करना चाहे तो महिला उसे मना नहीं करती है | यदि महिला ऐसा करती है तो उसे कठोर दंड दिया जाता है |

लेकिन महिला के साथ यह एक बार नहीं होता है | बल्कि महिला को हर 35 दिन के अंतराल पर यानी जब त्योहार आयोजित होता है, महिला को उसी पुरुष के साथ संबंध बनाना होता है। ऐसा लगातार सात बार करने पर ही औरतों का मकसद पूरा होता है | यह बात सुनने में काफी अजीब लगती है लेकिन यही सत्य है | ऐसी ना जाने कितनी ही प्रथाये है जिनके कारण महिलाओ के साथ अत्याचार किया जाता है |

वहीं अमेरिका में प्रशांत महासागर के पश्चिम में स्थित माइक्रोनेशिया इलाके में गुआम जनजाति के लोग रहते हैं | यहां की परंपरा के अनुसार मर्दों को कुवांरी लड़कियों के साथ शादी नहीं करनी होती है | जानकारी के मुताबिक यहां के लोगों को शादी से पहले किसी मर्द के साथ शारीरिक संबंध बनाना ही पड़ता है | साथ ही कहा जाता है अगर शादी के समय कोई लड़की कुंवारी पाई जाती है तो उसे कानून का उल्लंघन कहा जाता हैऔर वहां भी कठोर दंड दिया जाता है |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here